मेस्सीने दिया म्याराडाेनाकाे श्रद्दान्जलि

मेस्सीने दिया म्याराडाेनाकाे श्रद्दान्जलि

डिएगो मैराडोना का 60 साल की उम्र में 25 नवंबर को हार्ट अटैक से निधन हो गया। मैराडोना की गिनती महान फुटबॉलर्स में होती है और उन्होंने 1986 में अर्जेंटीना को वर्ल्ड कप जिताने में अहम रोल निभाया था। उनके ही हमवतन लियोनल मेसी ने रविवार को स्पेनिश टूर्नामेंट ला लीगा के एक मैच में गोल के बाद अलग अंदाज में श्रद्धांजलि दी।

मैच में बार्सिलोना ने ओसासुन को 4-0 से शिकस्त दी। मेसी ने एक गोल किया, जो 73वें मिनट में दागा। गोल के बाद उन्होंने मैराडोना की 10 नंबर जर्सी को पहना और लीजेंड को श्रद्धांजलि दी। मेसी ने मैराडोना की नेवेल्स ओल्ड ब्वॉयज टीम की लाल और काली जर्सी पहनी थी।मैराडोना ने 1986 वर्ल्ड कप में 5 गोल दागे थे ।

अर्जेंटीना के कप्तान रहे मैराडोना ने 1986 वर्ल्ड कप में 5 गोल किए थे। इस टूर्नामेंट में उनका वर्ल्ड फेमस गोल भी शामिल है, जिसे "हैंड ऑफ गॉड" के नाम से जाना जाता है। इसी गोल की मदद से अर्जेंटीना ने इंग्लैंड को टूर्नामेंट से बाहर कर दिया था।

फीफा प्लेयर ऑफ द सेंचुरी सम्मान भी मिला
मैराडोना ने इंटरनेशनल करियर में 91 मैच खेले, जिसमें उन्होंने 34 गोल किए। उन्होंने 4 FIFA वर्ल्ड कप में 21 मैच खेले, जिसमें 8 गोल दागे। 1986 वर्ल्ड कप में वे टूर्नामेंट के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी घोषित किए गए थे। उन्हें गोल्डन बॉल अवॉर्ड जीता था। मैराडोना को फीफा प्लेयर ऑफ द सेंचुरी से भी नवाजा जा चुका है। उन्होंने एक बार वर्ल्ड कप गोल्डन बॉल, एक बार बेलोन डी ओर, 2 बार साउथ अमेरिकन फुटबॉलर ऑफ द ईयर, 6 बार नेशनल लीग टॉप स्कोरर अवॉर्ड जीता है।


Share Tweet Send
0 Comments
Loading...