फाइजर की वैक्सीन अप्रूव करने वाला UK पहला देश बन सकता है

फाइजर की वैक्सीन अप्रूव करने वाला UK पहला देश बन सकता है

भारत में अब भी कोरोना वैक्सीन अंतिम स्टेज के ट्रायल्स में है, लेकिन अंतरराष्ट्रीय स्तर पर इसी महीने वैक्सीन की डिलीवरी और लगाने की प्रक्रिया शुरू होने की उम्मीद है। ब्रिटेन की तैयारियों को देखकर लगता है कि फाइजर और बायोएनटेक के वैक्सीन को सबसे पहले अप्रूवल मिल जाएगा। साथ ही 7 दिसंबर से इसकी डिलीवरी शुरू हो जाएगी। अमेरिका में फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (FDA) की एडवायजरी मीटिंग 10 दिसंबर को है, जब किसी वैक्सीन को इमरजेंसी अप्रूवल दिया जा सकता है।

जल्द से जल्द अप्रूवल देगा ब्रिटेन

ब्लूमबर्ग की रिपोर्ट्स के मुताबिक ब्रिटेन ने अप्रूवल प्रक्रिया को तेजी देने की योजना बनाई है। फाइजर और बायोएनटेक का बनाया वैक्सीन सबसे पहले अप्रूव हो सकता है। अब तक सिर्फ चीन और रूस ने ही अपने वैक्सीन को लोगों को लगाने के लिए अप्रूवल दिया है। हालांकि, उनके फैसलों पर सवाल भी उठे हैं, क्योंकि उन्होंने यह अप्रूवल लार्ज-स्केल ट्रायल्स के नतीजे आने के पहले ही दे दिया था।

ब्रिटिश सरकार को लग रहा है कि वैक्सिनेशन की प्रक्रिया क्रिसमस से पहले शुरू कर दी जाए। UK के ड्रग रेगुलेटर मेडिसिन्स एंड हेल्थकेयर प्रोडक्ट्स रेगुलेटरी एजेंसी ने कहा है कि सेफ्टी से समझौता किए बिना वह फाइजर वैक्सीन को जितना कम समय में हो सके, अप्रूवल दे देगी।

अमेरिका में इसी महीने लगने लगेंगे वैक्सीन

अमेरिका के नेशनल इंस्टि्टयूट ऑफ एलर्जी एंड इंफेक्शियस डिसीज के प्रमुख एंथनी फॉसी ने कहा कि हम प्रायोरिटी ग्रुप्स को दिसंबर खत्म होने से पहले वैक्सीन लगाना शुरू कर देंगे। फाइजर ने ही अमेरिका में भी इमरजेंसी यूज अप्रूवल के लिए FDA को अप्लाई किया है।

फाइजर और बायोएनटेक के वैक्सीन कैंडिडेट BNT162b2 ने अंतिम फेज के ट्रायल्स के बाद वैक्सीन को कोरोनावायरस के खिलाफ 95% इफेक्टिव होने का दावा है। इससे पहले अमेरिका की ही एक कंपनी मॉडर्ना ने भी अपने वैक्सीन के 94.5% इफेक्टिव होने का दावा किया था। अब तक फाइजर-बायोएनटेक, मॉडर्ना, रूस के स्पूतनिक V और ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी-एस्ट्राजेनेका के वैक्सीन के ही फेज-3 के नतीजे सामने आए हैं।

जर्मनी में भी इसी महीने मिलेगा अप्रूवल

जर्मनी के अधिकारियों का कहना है कि यूरोपीय संघ के रेगुलेटर से अप्रूवल मिलते ही दिसंबर में ही लोगों को वैक्सीन लगाने की प्रक्रिया शुरू कर दी जाएगी। जर्मनी के हेल्थ मिनिस्टर ने बावरियन रेडियो से कहा कि हमें उम्मीद है कि 15 दिसंबर से पहले फाइजर के वैक्सीन को अप्रूवल मिल जाएगा।

फाइनेंशियल टाइम्स की रिपोर्ट के मुताबिक यूरोपीय संघ में दवाओं को लाइसेंस देने वाली यूरोपियन मेडिसिन्स एजेंसी अगले हफ्ते फाइजर-बायोटेक और मॉडर्ना के वैक्सीन को अप्रूवल देने पर फैसला ले सकती है। यदि अगले हफ्ते ऐसा हो जाता है तो इस ब्लॉक के 27 सदस्य देशों में दिसंबर में ही वैक्सीन लगना शुरू हो जाएंगी।

UK ने सात अलग-अलग प्रोड्यूसर्स से 35 करोड़ वैक्सीन खरीदने पर सहमति जताई है। कोशिश यह है कि जितना ज्यादा हो सके, उतने लोगों को जल्द से जल्द वैक्सीन लगाई जाए। हेल्थ डिपार्टमेंट ने कहा कि उसने मॉडर्ना के वैक्सीन के लिए ऑर्डर को 50 लाख से बढ़ाकर 70 लाख कर दिया है।

दैनिक भास्करसे साभार


Share Tweet Send
0 Comments
Loading...